प्राचीन भारत का इतिहास के क्वेश्चन

भारत और राजस्थान की कला , संस्कृति , इतिहास , भूगोल और समसामयिक दृश्यों के विविध रंगों से युक्त प्रामाणिक एवं मूलभूत जानकारियों की एक वेब है । भारत और राजस्थान के प्रामाणिक ज्ञान की इस वेब पर आपका हार्दिक स्वागत है । विद्यार्थियों के उपयोग हेतु भारत और राजस्थान से संबंधित प्रामाणिक तथ्यों को हिंदी माध्यम से देने के लिए किया गया यह प्रथम विनम्र प्रयास है । भारत और राजस्थान सम्बन्धी प्रामाणिक ज्ञान को साझा करने के इस प्रयास को आप सब पाठकों का पूरा समर्थन प्राप्त हो रहा है । कृपया आगे भी सहयोग देते रहे।


प्राचीन भारत का इतिहास नोट्स
प्राचीन भारत का इतिहास नोट्स

Q - यूनानियों ने भारत को क्या कहा हैं।
a  इंडिया
b  हिन्द
c  हिंदुस्तान
d  इन में से कोई नहीं
Ans - इंडिया


Q - मुस्लिम इतिहासकारो ने भारत को किसी नाम से संबोधित किया है

a  हिन्द
b  हिंदुस्तान
c  इंडिया
d  a or b दोनों
Ans - a और b दोनों


Q - भारतीय इतिहास को अध्ययन की सुविधा के लिए कितने भागों में बांटा गया है ।

a  1
b  2
c  3
d  4
Ans - 1 प्राचीन भारत
2 मध्यकालीन भारत
3 आधुनिक भारत


Q - प्राचीन भारत के इतिहास को कितने भागों में बांटा गया है

a  1
b  2
c  3
d  4
Ans -
1 धर्म ग्रंथ
2 ऐतिहासिक ग्रंथ
3 विदेशियों का विवरण
4 पुरातत्व संबंधी साक्ष्य

Q - भारत का सर्व प्राचीन धर्म ग्रंथ कौन सा है

a  वेद
b  नित्य
c  संहिता
d  इनमें से कोई नहीं
Ans - भारत का सर्व प्राचीन धर्म ग्रंथ वेद है जिसके संकलनकर्ता महर्षि कृष्ण द्वैपायन वेदव्यास को माना जाता है

Q - वेद कितने होते हैं

a  1
b  2
c  3
d  4
Ans - वेद चार है ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद, अथर्ववेद

Q - ऋग्वेद में कितने मंडल होते हैं

a  10
b  1028
c  10462
d  उपरोक्त सभी
Ans - ऋग्वेद में 10 मंडल होते हैं , 1028 सूक्त और 10462 ऋचाएं होती हैं।

Q - विश्वामित्र द्वारा रचित ऋग्वेद के तीसरे मंडल में किसका वर्णन किया गया है।

a  सूर्य देवता
b  सावित्री
c  गायत्री मंत्र
d  सोम
Ans - विश्वामित्र द्वारा रचित ऋग्वेद के तीसरे मंडल में गायत्री मंत्र का वर्णन किया गया है । तथा इसके नौवें मंडल में देवता सोम का उल्लेख किया गया है
- इन प्रश्नों के साथ 1 पॉइंट और बता देता हूं इसके आठवीं मंडल की हस्तलिखित ऋचाओ को खिल कहा जाता है

Q - महात्मा बुद्ध का जन्म कब हुआ था

a  563 ईसा पूर्व
b  540 ईसा पूर्व
c  461 ईसा पूर्व 
d  483 ईसा पूर्व
Ans - महात्मा बुद्ध का जन्म 563 ईसा पूर्व में एवं मृत्यु 483 ईसा पूर्व में हुई

Q - ऋग्वेद इंद्र के लिए कितनी ऋचाओ ओं की रचना की गई है ।

a  200
b  250
c  300
d  इन में से कोई नहीं
Ans - ऋग्वेद में इंद्र के लिए 250 तथा अग्नि के लिए 200 ऋचाओ की रचना की गई है

Q - वह वेद जो गध एवं पध दोनों में हैं

a  ऋग्वेद
b  यजुर्वेद
c  सामवेद
d  अथर्ववेद
Ans - यजुर्वेद गध एवं पध दोनों में हैं और यजुर्वेद में यह के नियमों एवं विधि विधानो का संकलन मिलता है
 
Q - ऋग्वेद के पढ़ने ऋचाओ वाले ऋषि को क्या कहते हैं
a  होतू
b  अध्वर्यु
c  उद्रत
d  इन में से कोई नहीं
Ans - ऋग्वेद के पढ़ने ऋचाओ वाले ऋषि को होतू कहते हैं

Q - यजुर्वेद के पढ़ने ऋचाओ वाले ऋषि को क्या कहते हैं

a  अध्वर्यु
b  उद्रत
c  होतू
d  इन में से कोई नहीं
Ans - ऋग्वेद के पढ़ने ऋचाओ वाले ऋषि को अध्वर्यु कहते हैं