राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ का प्रदर्शन

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के द्वारा रीट की भर्ती करवाई जाती हैं । इस बार पता नही है कि परीक्षा राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कर करवाएगा या फिर और कोई एजेसी करवाएगी अभी तक कोई पैटर्न जारी नहीं किया गया है देखते कब तक परीक्षा तिथि और पैटर्न जारी किया जाएगा। पहले तो कहा गया था कि रीट भर्ती 2020 का आयोजन 2 अगस्त को होगा लेकिन फिर कोरोना महामारी के कारण रीट भर्ती की परीक्षा का आयोजन होना कठिन प्रतीत हो रहा था , परन्तु सरकार के बयान के आधार से लगा

कि रीट की परीक्षा का आयोजन 2 सितम्बर को होगी फिर शिक्षामंत्री से पूछा गया तब रीट परीक्षा के आयोजन पर शिक्षामंत्री ने कहा कि पहले कोरोना के चलते कामकाज प्रभावित हुए । अब खरीद फरोख्त करके सरकार गिराने की कोशिश की जा रही है । हालांकि उन्होंने कहा कि सरकार सुरक्षित ऐसे में 2 सितंबर को रीट का आयोजन करवाने पर शिक्षामंत्री स्पष्ट रूप से कुछ नहीं कह पाए अभी तक कोई परीक्षा तिथि नही न ही पैटर्न जारी किया गया परंतु पता तो पहले ही था जब सरकार ने बयान दिया था क्यों कि रीट की विज्ञप्ति जारी करने के साथ ही परीक्षा के आयोजन तक कम से कम तीन महीने का समय लग जाता है परंतु परीक्षा तो नही परीक्षा तिथि और पैटर्न तो जारी किया जा सकता था 

राजस्थान सरकार द्वारा रीट 2020 इस की परीक्षा तिथि और पैटर्न अब तिथि तक जारी नहीं किए जाने से खफा बेरोजगार 2 सितंबर को जयपुर में प्रदर्शन करेंगे । इस परीक्षा का प्रदेशभर में 11 लाख से अधिक बेरोजगार इंतजार कर रहे हैं ।  प्रदेश में तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती के लिए इस परीक्षा की घोषणा संपन्न कर रखी है । बेरोजगार एकीकृत महासंघ के उपेन यादव ने कहा कि सरकार 1 सितंबर तक यदि रीट भर्ती परीक्षा का विज्ञापन , परीक्षा तिथि और परीक्षा पैटर्न जारी नहीं करती है

Reet abhyarthiyon ka pradarshan
Reet abhyarthiyon ka pradarshan

तो 2 सितंबर को जयपुर में प्रदर्शन होगा । यादव ने कहा कि राज्य सरकार ने पूर्व में इस परीक्षा के लिए 2 सितंबर परीक्षा तिथि प्रस्तावित की थी , लेकिन अगस्त पूरा हो चुका है और अब तक सरकार की ओर से इस परीक्षा की कोई तैयारी नहीं की गई है । अभी तक यह भी फाइनल नहीं हुआ है इस परीक्षा को राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के द्वारा ही संपन्न कराई जाएगी या किसी और अन्य एजेंसी को इसका जिम्मा दिया जाएगा । अभ्यर्थी परीक्षा के पैटर्न को लेकर भी असमंजस में है कि रीट पूर्व के पैटर्न पर ही होगी या नया पैटर्न अपनाया जाएगा ।